ज्ञानपुर के युवक ने क्लिनिकल ट्रायल के लिए देह दान की जताई इच्छा

ज्ञानपुर के युवक ने क्लिनिकल ट्रायल के लिए देह दान की जताई इच्छा

वाराणसी। सबको मालूूूम है कि देेेश में बढ़ते कोरोना के कहर के बीच प्रधानमंत्री समेत पूरे देश के डॉक्टर्स और वैज्ञानिक इसकी दवा बनाने के लिए चिंतित हैं। डॉक्टर्स व वैज्ञानिक कोरोना की वैक्सीन बनाने के लिए ततपर हैं तो ज्ञानपुर, संत रविदासनगर भदोही के रहने वाले विपुल सिंह उर्फ निशांत ने इस महामारी से लड़ने के लिए अहम भूमिका अदा करने की ठानी है। विपुल ने इस बीमारी से लड़ने के लिए किसी भी क्लिनिकल ट्रायल के लिए अपना शरीर दान करने की सोची है और इस सोच को प्रधानमंत्री ,मुख्यमंत्री को पत्र के माध्यम से व जिलाधिकारी भदोही से मिलकर पत्रक देकर अवगत कराया।

जिलाधिकारी भदोही राजेन्द्र प्रसाद ने इसे नेकपहल बताते हुए उच्चाधिकारियों व संबंधित विभागों तक बात पहुंचाने के बाद निर्णय लेने का आश्वासन दिया है। वहीं विपुल अपने इस पहल के लिए उत्साहित हैं और उनका कहना है कि शरीर का एक एक हिस्सा इस देश के काम आ जाय यही उनकी इच्छा है। विपुल ने कहा कि जिलाधिकारी के आश्वासन से उन्ही खुशी है और उम्मीद है कि उनकी मंशा जरूर पूरी होगी। वहीं जिलाधिकारी ने विपुल को सेनिटाइजर व मास्क देकर कोरोना के प्रति ज्यादा सावधान रहने को भी कहा।
विपुल सिंह उर्फ निशांत ने अपना शरीर दान करने का निर्णय लेकर सबको चौंका दिया है लेकिन अगर क्लिनिकल ट्रायल में विपुल का शरीर किसी प्रकार की सफलता दिलाता है तो इस महामारी से लड़ने का एक रास्ता अत्यंत सुगम जरूर हो जाएगा।
रिपोर्ट : दिनेश मिश्र