तब्लीगी समाज का पक्षधर है मुस्लिम समाज- अरुण पाठक

तब्लीगी जमात के खिलाफ काशी से उठी आवाज, मस्जिद से लाउडस्पीकर बन्द करने की मांग

वाराणसी। तबलीगी जमात के लोगों द्वारा पूरे देश में जिस तरीके से कोरोना संकट को बढ़ावा मिल रहा है और जमात के लोग जिस तरीके से बदतमीजी भरी हरकतें कर रहे हैं उस पर विश्व हिंदू सेना के राष्ट्रीय अध्यक्ष अरुण पाठक ने करारा जवाब देते हुए  कहा कि यदि ये मस्जिदों से तबलीगी जमात के लोगों को शाशन प्रशासन का सहयोग करने का सार्वजनिक ऐलान नहीं करें तो मस्जिदों में हो रहे पांच वक्त की अजान पर रोक लगाने की मांग शासन से की है।

अरुण पाठक का कहना है जिस तरीके से तबलीगी जमात बेनकाब हुआ है उसे यह जाहिर होता है कि सभी मुसलमान तबलीगी जमात का पक्ष ले रहे हैं क्योंकि अभी तक किसी भी मस्जिद में किसी भी अजान में यह घोषणा नहीं की गई है कि जहां कहीं भी तबलीगी जमात से आए हुए लोग छुपे हुए हैं वह सामने आकर अपनी जांच कराएं ताकि कोरोनावायरस का संक्रमण आम आदमी तक न पहुंचे . लेकिन ऐसा अभी तक नहीं हुआ है न तो मुस्लिम धर्मगुरुओं ने इस प्रकार की कोई पहल की है। ऐसे में यह कहा जा सकता है कि सभी मुस्लिम तबलीगी जमात के पक्षधर हैं और यह सरासर गलत है। अरुण पाठक ने कहा कि मुस्लिम धर्मगुरुओं को सामने आकर तबलीगी जमात से जुड़े लोगों को बाहर निकलने का आदेश निर्देश देना चाहिए। जिससे इस जानलेवा कोरोना वायरस का संक्रमण आम जनता के बीच में ना पहुंचे  हमारा देश सुरक्षित रहे क्योंकि इसके वजह से हमारे देश में तमाम तरह की संकट पैदा हो रहे हैं और इसके वजह से आने वाले समय में हमारे देश की स्थिति काफी भयावह हो सकती है। अरुण पाठक ने शासन और प्रशासन से यह मांग की की मस्जिदों में बजने वाले लाउडस्पीकर पर तत्काल बैन लगाया जाए।

रिपोर्ट : दिनेश मिश्र