सरकार कर्मकांडी ब्राह्मणों के लिए घोषित करे विशेष पैकेज : अरुण पाठक

सरकार कर्मकांडी ब्राह्मणों के लिए घोषित करे विशेष पैकेज : अरुण पाठक

वाराणसी। वाराणसी में विश्व हिंदू सेना की ऑनलाइन बैठक आहूत की गई जिसमें चर्चा की गई कि देश में लगभग 1 करोड़ से भी ज्यादा ब्राह्मण के ऐसे वर्ग हैं जो कर्मकांड के सहारे अपना जीवन यापन करते हैं। ऐसे में उन्हें तीज त्यौहार व्रत शादी विवाह आदि मौके पर ही कमाने का मौका मिलता है। जिसके बाद वह अपने परिवार का जीवन यापन करते हैं। इस बार नवरात्रि में होने वाली विप्र ब्राह्मणों की कमाई कोरोना वायरस के संक्रमण के बाद लगने वाली लॉक डाउन की वजह से नहीं हो पाई जिससे कर्मकांडी ब्राह्मणों के ऊपर परिवार के भरण-पोषण का दबाव काफी ज्यादा बढ़ गया है। कर्मकांडी ब्राह्मणों का एक ऐसा वर्ग है जो किसी के आगे हाथ नहीं फैला सकता ना किसी से अपना दुख व्यक्त कर सकता है। लॉक डाउन की स्थिति में किसी भी प्रकार की कमाई ना होने की वजह से इनकी स्थिति इस समय काफी दयनीय हो रही है। ऐसे में विश्व हिंदू सेना ऑनलाइन बैठक कर सरकार से निवेदन करना चाहती है कि जिस प्रकार से सभी वर्गों के लिए सरकार हर तरीके से मदद करने को तैयार है । उसी प्रकार इन कर्मकांडी ब्राह्मणों को विशेष पैकेज देने की घोषणा करें ताकि यह खुद और अपने परिवार का भरण पोषण इस कठिन दौर में सुलभता से कर सकें।

विश्व हिंदू सेना भारत देश में रहने वाले सभी हिंदू भाइयों की रक्षा और सेवार्थ काम करने की सोच रखती है ऐसे में मध्यम वर्ग के इन ब्राह्मणों के बारे में सोचना भी विश्व हिंदू सेना का परम कर्तव्य बनता है। अतः सरकार से विनम्र निवेदन है ब्राह्मणों के इस वर्ग के ऊपर विशेष ध्यान देते हुए विशेष पैकेज की घोषणा करने की कृपा करें। राष्ट्रीय अध्यक्ष अरुण पाठक की अध्यक्षता में महासचिव विपिन ओझा, संयुक्त सचिव विजेश्वर सिंह, राष्ट्रीय प्रवक्ता काशीनाथ शुक्ला, मीडिया प्रभारी कमलेश दुबे और कोषाध्यक्ष राकेश श्रीवास्तव ने ऑनलाइन बैठक में अपने विचार व्यक्त किये।

रिपोर्ट : दिनेश मिश्र