कड़ाके की ठंड के चलते पेटलावद में गरीब युवक की हुई मौत, जिम्मेदारों की लापरवाही से युवक सोया मोत की नींद –

कड़ाके की ठंड के चलते पेटलावद में गरीब युवक की हुई मौत, जिम्मेदारों की लापरवाही से युवक सोया मोत की नींद –

News@- सुनील खोड़े –
पेटलावद (झाबुआ) – कड़ाके की ठंड के चलते पेटलावद में एक मजदूर की मौत हो गई है। जानकारी अनुसार खवासा निवासी कचरू पिता कान्हा मालवीय उम्र 40 वर्ष पिछले करीब 7 से 8 वर्ष से पेटलावद में हैम्माली मजदुरी का कार्य कर रहा था। जिसकी मंगलवार की रात कड़ाके की ठंड के चलते मोत हो गई। उक्त मजदूर के पास अपना घर नही था मूलरूप से वह खवासा का निवासी है परन्तु काम की जुगत में वह पेटलावद में रह कर मजदूरी कर रहा था, जिसका अपना कोई ठिकाना नही था वह इस कड़कड़ाती ठंड में नगर के पुराना बस स्टैंड स्थित एक नीजि लॉज के बाहर सो रहा रहा जिसकी कड़ाके की ठंड के चलते मोत हो गई। परिजनों द्वारा बताया कि मजदूर कचरू लंबे समय से पेटलावद में रह कर मजदूरी का कार्य कर रहा था हमे खबर मिली है कि उसकी ठंड के चलते मोत हो गई है। परिजनों द्वारा कचरू के शव को खवासा ले जाया गया है। जंहा अंतिम संस्कार किया जाएगा।

मामले में नगर परिषद सीएमओ की लापरवाही सामने आ रही है। क्योंकि कड़ाके की ठंड के बावजूद भी पेटलावद नगर में अलाव की कोई व्यवस्था नही की गई, जिससे फुटपाथ पर रहने वाले लोग इस कड़ाके की ठंड में ठिठुर रहे है और अपनी जान तक गवाने में पर मजबूर होने लगे है। मध्यप्रदेश में ठंड के चलते यह पहली मोत का मामला हो सकता है। परिषद में बैठे सीएमओ को अब भी ध्यान देते हुए अलाव की व्यवस्था की जाना चाहिए। अन्यथा फिर कोई कचरू लापरवाही की भेंट चढ़ जाएगा।