लोक निर्माण विभाग पेटलावद के अंतर्गत गोदड़ीया से करनगढ़ मार्ग में हुए भ्रष्टाचार की जांच करने को लेकर 1 माह बाद भी अधिकारी गंभीर नहीं —

लोक निर्माण विभाग पेटलावद के अंतर्गत गोदड़ीया से करनगढ़ मार्ग में हुए भ्रष्टाचार की जांच करने को लेकर 1 माह बाद भी अधिकारी गंभीर नहीं —

News@- दिलीप मालवीय
बामनिया (झाबुआ) – आदिवासी अंचल झाबुआ जिले में नित नए-नए तत्कालीन सरकार में हुए भ्रष्टाचार सूचना के अधिकार के अंतर्गत प्राप्त जानकारी के अनुसार उजागर हो रहे हैं भ्रष्टाचार को लेकर समाचार पत्रों के माध्यम से भी अधिकारियों को अवगत करवाया गया है।
मामला झाबुआ जिले के पेटलावद विकासखंड के ग्राम पंचायत गोदडीया से करनगढ़ मार्ग का है जिसमें लाखों रुपए का भ्रष्टाचार पीडब्लूडी डामर के नाम पर किया गया है, जिसकी लिखित शिकायत कलेक्टर झाबुआ को भी की गई है शिकायत में बताया गया है कि उक्त मार्ग में हुए भ्रष्टाचार की जांच वर्तमान एसडीओ पेटलावद द्वारा की गई थी वह जांच पूरी तरीके से फर्जी पाई गई है। एवं जांच में ही संबंधित अधिकारी द्वारा हेरफेर किया गया है 11/11/ 2019 को कलेक्टर महोदय झाबुआ को संलग्न दस्तावेजों के साथ में बताया गया कि उक्त मार्ग में तत्कालीन एसडीओ उपयंत्री द्वारा किस तरीके से फर्जी मापदंड पुस्तिका मैं मूल्यांकन चढ़ाकर अधिकारियों द्वारा राशि को प्राप्त करने के लिए हेरफेर किया गया है 1 माह बीत जाने के बाद भी अधिकारी द्वारा की जाने वाली जांच में लेटलतीफी की जा रही है एवं अधिकारियों को बचाया जा रहा है आज भी मार्ग की स्थिति काफी दयनीय है एवं उक्त मार्ग से निकलने वाले लोगों को भारी परेशानियां उठानी पड़ रही है। ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि मार्ग में हुए भ्रष्टाचार की शिकायत के संबंध में संबंधित अधिकारी कभी भी उक्त मार्ग पर जांच करने के लिए नहीं आए ।