क्षेत्र की खूबसूरत पहाड़ियों का अस्तित्व खतरे में, जिम्मेदार खुद कर रहे माफियाओं की मदद, बिना रोक टोक जमकर हो रही पहाड़ियों की खुदाई –

क्षेत्र की खूबसूरत पहाड़ियों का अस्तित्व खतरे में, जिम्मेदार खुद कर रहे माफियाओं की मदद, बिना रोक टोक जमकर हो रही पहाड़ियों की खुदाई –

News@- सुनील खोड़े –
पेटलावद (झाबुआ) – इन दिनों धड़ल्ले से बेरोक टोक अवैध उत्खनन बदस्तूर जारी है, जिसे रोकने टोकने वाला यहां कोई नहीं है क्षेत्र में बहने वाली छोटी छोटी नदियों में चाहे रेत का उत्खनन हो, लाल मोरम हो या फिर क्रेशर मशीनों के लिए पत्थरों को निकालने का काम अनेकों प्रकार से खनन का काम प्रशासन की नाक के नीचे जारी है। जिसे अब तक प्रशासन नाप नहीं पाया और ना ही यह पता लगा पाया है कि परमिशन कहां की है, और खनन कहां पर किया जा रहा है पिछले दिनों भी ऐसे ही अवैध तरीके से एक ठेकेदार द्वारा बिना परमिशन के क्षेत्र की पहाड़ी को जेसीबी से खुदाई कर अपने स्वार्थ के लिए शासन को चुना लगा रहा था जिसकी सूचना पाकर अनुविभागीय अधिकारी ने जेसीबी और डंपर को पकड़ा था गौरतलब है कि करड़ावद मार्ग पर पेट्रोल पंप के पीछे मॉडल स्कूल के समीप खुदाई का काम जोरों पर किया जा रहा था परंतु एक बार फिर से परमिशन लेकर खुदाई की जा रही है खुदाई उस स्थान पर की जा रही है जो क्षेत्र की सुंदर आकर्षक पहाड़िया नुमा टीले बने हुए हैं। जो खूबसूरती का केंद्र बने हुए हैं खनन माफियाओं और प्रशासन की अनदेखी के कारण क्षेत्र की खूबसूरत पहाड़ियों का अस्तित्व खतरे में हैं।