क्षेत्र में आई ककड़ी की भरमार, खूब हो रही बिक्री

क्षेत्र में आई ककड़ी की भरमार, खूब हो रही बिक्री –

News@- राजेश राठौड़ –
रायपुरिया (झाबुआ) – इन दिनों आदिवासी अंचल के बालम ककड़ी की भरमार आ गई हाट बाजार में आदिवासी महिला व पुरुष बेचते हुए दिखाई दे रहे हैं वैसे तो ककड़ी की सीजन भादवा माह से शुरू हो जाती है लेकिन इस वर्ष बारिश अधिक होने से ककड़ी के उत्पादन में फर्क पड़ गया इस वजह से कुंवार माह में ककड़ी की फसल आई नाथू भाई बताते हैं कि ककड़ी का उत्पादन बारिश में ही होता है साल भर में एक बार ही यह लगती है हमने बीज बाजार से लाकर लगाए थे लेकिन जो पैदावार होना थी वह नहीं हो सका ककड़ी की सुंदरता देखकर हर कोई मोहित हो जाता है उसमें इतनी मिठास रहती है कि ग्रामीण जन इन ककड़ी को बडे शोक से खरीद कर अपने घर ले जाते हैं उपवास मैं इनका इस्तेमाल करते हैं छोटी-छोटी ककड़ी की दुकान लगाकर बैठे हुए दिखाई दे रहे हैं वहीं एक ककड़ी की कीमत सिर्फ ₹5 होती है।