स्वच्छ भारत ग्रामीण मिशन योजना के जिला परियोजना अधिकारी का देवास हुआ स्थानांतरण, केवल स्थानांतरण से नहीं चलेगा काम, शासन एवं सरकार करें इस अधिकारी पर रिकवरी एवं कार्यवाही

स्वच्छ भारत ग्रामीण मिशन योजना के जिला परियोजना अधिकारी का देवास हुआ स्थानांतरण, केवल स्थानांतरण से नहीं चलेगा काम, शासन एवं सरकार करें इस अधिकारी पर रिकवरी एवं कार्यवाही

News@- दिलीप मालवीय –
आज पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अंतर्गत राज्य स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण मध्यप्रदेश द्वारा स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण योजना के अंतर्गत जिला परियोजना अधिकारियों के तबादला सूची जारी की गई जिसमें संविदा नियुक्ति पद पर झाबुआ से सुनील कुमार सुमन का तबादला देवास कर दिया गया है सरकार द्वारा किए गए स्थानांतरण आदेश स्वागत योग्य है लेकिन झाबुआ जिले में जिला परियोजना अधिकारी एवं अन्य जनपद पंचायत के अधिकारियों की मिलीभगत से स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण शौचालय में बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार हुए हैं जिसकी जांच भी हो चुकी है केवल कार्रवाई होना बाकी है वर्षों से जमे अधिकारी द्वारा कई जनपद पंचायतों की ग्राम पंचायत में अपने चहेतों को वेंडर नियुक्त करके कई जनपद पंचायतों में सीधे हितग्राहियों के खातों में जाने वाली राशि को वेंडर के खातों में ट्रांसफर करवा दिया गया है जनपद पंचायत राणापुर थांदला पेटलावद रामा की ऐसी कई ग्राम पंचायतें हैं जिसमें आज भी हितग्राहियों की अनेक शिकायतें हैं। संविदा नियुक्ति पद पर श्री सुमन द्वारा बड़े स्तर पर फर्जीवाड़े का कृत्य किया गया है लेकिन सरकार के द्वारा संविदा नियुक्ति पद पर रहे इस अधिकारी के ऊपर अगर जो कार्रवाई करनी है तो जितनी भी राशि में भ्रष्टाचार किया गया है उसकी रिकवरी की जाए शासन से मिलने वाली अनेक मदों की राशी में भी बड़े स्तर पर भ्रष्टाचार हुआ है उसकी भी जांच किसी स्वतंत्र एजेंसी को दी जाए।