झूले में झूलते हुए भगवान विष्णु निकले नगर भ्रमण पर, वर्षो पुरानी परंपरा का ग्रामीण कर रहे निर्वहन –

झूले में झूलते हुए भगवान विष्णु निकले नगर भ्रमण पर, वर्षो पुरानी परंपरा का ग्रामीण कर रहे निर्वहन –

News@- राजेश राठौड़ –
रायपुरिया (झाबुआ) – देव झूलनी ग्यारस के दिन झुले में झुलते हुए भगवान विष्णु निकले नगर भ्रमण पर। स्थानीय राम मंदिर से झूले प्रारंभ हुए गांव के गली मोहल्ले में घूमते हुए वापस मंदिर प्रांगण में पहुंचे जहां पर भगवान विष्णु की आरती उतारी गई व प्रसादी वितरण की गई। झूले में श्रद्धालुओं द्वारा ककड़ी भुट्टा अन्य चीजें भगवान को भेंट की ढोल धमाके के साथ निकले जिसमें झूले के साथ ग्रामीण जन चल रहे थे छोटे-छोटे बच्चे भी साथ में थे प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी झूले निकाले गए। कई वर्षों बाद इस देवझुलनी ग्यारस के दिन जब भगवान के झूले निकल रहे थे तो बारिश भी भगवान विष्णु का स्वागत कर रही थी। पुरानी कहावत कहते हैं बुजुर्ग की देव झूले की मेव खुल जाते हैं यानी कि बारिश अब देव झुलनी के बाद खुल जाएगी ऐसी कहावत कहते हैं।