लव जिहाद व हिंदुओं पर अत्याचार के खिलाफ बजरंगदल हुआ सक्रिय

देश में बढ़ती हिन्दू द्रोही व देश विरोधी इस्लामिक जिहादी गतिविधियों पर अंकुश लगाने के लिए बजरंग दल आया आगे

वाराणसी। बजरंग दल ने महामहिम राष्ट्रपति को एक पत्र भेजा गया है जिसमे हिन्दू विरोधी गरिविधियों व हिंदुओं को बदनाम करने का आरोप लगाते हुए जिहादियों पर आक्रमण किया गया है। पत्र में लिखा गया है कि गत कुछ वर्षों में अलगाववादी मानसिकता के साथ चलने वाले इस्लामिक जिहादी संगठनों की देश विरोधी व हिन्दू द्रोही गतिविधियों के कारण देश में हिन्दू समाज व उसके धर्म स्थलों पर न सिर्फ सरेआम अनेक हमले हुए बल्कि मॉब लिंचिंग के नाम पर कुछ छुटपुट झूठी घटनाओं को बढ़ा चढ़ा कर पेश कर भोले भाले ग्रामीणों, गौरक्षकों, राम भक्तों तथा अन्य राष्ट्रवादियों को बदनाम करने के षडयन्त्र रचने का प्रयास भी किया गया।


छोटी-छोटी मासूम बालिकाओं तथा हिन्दू बहनों के साथ इन जिहादियों की दिनों-दिन बढती दरिंदगी सम्पूर्ण भारत को शर्मसार कर रही है। जिहादी आतंकवाद की बात हो या लव जिहाद की, हिन्दुओं के जबरन धर्मान्तरण की बात हो या उनके पलायन की, कश्मीरी अलगाववाद की बात हो या केरल, बंगाल व कर्नाटक में हिन्दुओं पर हो रहे सतत् आक्रमणों व जानलेवा हमलों की, राजधानी दिल्ली के व्यावसायिक केंद्र चांदनी चौक क्षेत्र में मंदिर व हिन्दू घरों पर आक्रमण की बात हो या सूरत, जयपुर व रांची में इनके भारत विरोधी हिंसक प्रदर्शनों की, सभी जगह इन्हीं जिहादियों के कारण हिन्दू समाज आज आक्रोषित है।

चोरों, गौ हत्यारों, गौ-तस्करों, पेशेवर हमलावरों इत्यादि को बचाने या उनके कुकर्मों पर पर्दा डालने के लिए योजनाबद्ध तरीके से हिन्दू आस्था के केन्द्रों को निशाना बनाया जा रहा है. ‘जय श्री राम’ जैसे पवित्र उद्घोष, जो कभी देश की सांस्कृतिक आजादी का बीज मंत्र था, आज, वह उसका मूलमंत्र बनकर सम्पूर्ण भारत में युवा शक्ति में जोश का संचार कर रहा है, को, झूठे तरीके से दुरुपयोग कर बदनाम करने के कुत्सित प्रयास इन जिहादियों के द्वारा किए जा रहे हैं और इसे देश की कथित सैक्यूलर बिरादरी हवा दे रही है।
पत्र में सभी जिहादी व कथित सैक्यूलर वादी अराजक व अराष्ट्रीय तन्त्र के झूूूठ प्रचार तथा प्रत्यक्ष व परोक्ष हमलों पर अंकुश लगाकर शान्ति प्रिय हिन्दू समाज तथा राष्ट्रीय मूल्यों की रक्षा करने की अपील की गई है।

रिपोर्ट : विकास यादव