हरियाणा के सांसी गैंग से कानपुर जीआरपी की मुठभेड़,5 दबोचे गये लाखों का माल बरामद

हरियाणा के सांसी गैंग से कानपुर जीआरपी की मुठभेड़,5 दबोचे गये लाखों का माल बरामद

कानपुर। लम्बे समय से कई राज्यों में आतंक बने हरियाणा के सांसी गैंग के ट्रेन लुटेरों को सोमवार को मुठभेड़ के दौरान इंस्पेक्टर राममोहन राय के नेतृत्व में कानपुर जीआरपी की टीम ने धर दबोचा। पकड़े गए बदमाशों से लाखों का लूटा हुआ माल जीआरपी ने बरामद क़िया। टीम अभी बदमाशों के रिकॉर्ड को खंगालने के लिए हरियाणा पुलिस से भी सम्पर्क की हैं।

एडीजी रेलवे संजय सिंघल व एसपी जीआरपी हिमांशु कुमार के मार्गदर्शन में अपराधियों के खिलाफ चलाये जा रहे अभियान में जीआरपी कानपुर सेंट्रल इंस्पेक्टर राममोहन राय को सूचना मिली कि ट्रेनों में लूटपाट की बड़ी योजना को अंजाम देने के लिए हरियाणा के सांसी गैंग के बदमाश पुरे नेटवर्क से सक्रिय हैं। इंस्पेक्टर जीआरपी ने टीम के साथ बदमाशों की सुरागकशी शुरू की तो सोमवार की तड़के उनकी लोकेशन कानपुर सेंट्रल स्टेशन एरिया में मिली। फोर्स के साथ घेरेबन्दी करने पर बदमाशों से मुठभेड़ हो गईं, टीम ने भी मोर्चा लेते हुए पांच बदमाशों को दबोच लिया। उनसे पूछताछ कर तलाशी ली गईं तो लाखों रुपये कीमत के सामान जो ट्रेन यात्रियों से लुटे गये थे बरामद हुए।

जीआरपी ने बदमाशों की शिनाख्त की तो पता चला कि पकड़े गए बदमाश हरियाणा के सांसी गैंग के सदस्य है। यह गैंग हरियाणा, पंजाब,दिल्ली, राजस्थान तक रेलवे नेटवर्क में वारदातों को अंजाम देता हैं इनके खिलाफ कई राज्यों में जीआरपी को इनकी तलाश थी। इस बाबत इंस्पेक्टर जीआरपी राममोहन राय बताया कि आज जीआरपी कानपुर सेन्ट्रल पुलिस द्वारा सांसी गैंग के 5 सदस्यों 1-सुरेन्द्र सिंह पुत्र निहाल सिंह नि० अशरफगढ़ थाना सदर, जिला जींद ,हरियाणा 2-गोविन्द पुत्र रोहतास नि० बोतवाला थाना सदर,जिला जींद,हरियाणा 3-सुरेन्द्र पुत्र राम फल नि० किरोड़ी ,थाना अगरवां ,जिला हिसार ,हरियाणा 4-सुरेन्द्र पुत्र रतन सिंह नि० सिंहपुर ,थाना सफीदो ,जिला जींद ,हरियाणा 5-राकेश पुत्र धरमपाल नि० अशरफगढ़ थाना सदर ,जिला जींद,हरियाणा को गिरफ्तार किया गया हैं।

उन्होंने बताया कि इन बदमाशों के कब्जे से से 1-मु० अ० सं० 383/18 धारा 380/411 भादवि से संबधित दो अदद अंगूठी हीरे व पुखराज जडित सोने की ,सोने का एक अदद चन्द्रहार ,दो अदद कड़े नग जड़ित सोने के,एक अदद हार रत्नजड़ित सोने का,सोने के दो अदद टाप्स रत्न जड़े हुए ,दो सोने के कर्णफूल ,दो अदद चूड़ी हीरे व सोने की ,एक अदद बाजूबन्द सोने का ,एक अदद हार मोती व सोने का,एक अदद हार हीरे का कुल कीमती करीब 2100000(इक्कीस लाख रुपये )2-मु० अ० सं० 483/18 धारा 380/411 भादवि से संबधित चार अदद कंगन सोने के, एक अदद टीका सोने का ,एक अदद नथ सोने का ,एक अदद चेन सोने की कुल कीमती 250000(दो लाख पचास हजार),3- मु० अ० सं 52/19 धारा 380/411 भादवि से संबधित एक अदद चेन व एक अदद टप्स सोने का कीमती करीब 90000(नब्बे हजार)4-मु० अ० सं० 51/19 से संबधित 4 -अदद कंगन सोने के कीमती करीब 100000(एक लाख),5-मु० अ० सं० 30/19 धारा 380/411 भादवि से संबधित एक अदद चेन ,तीन जोड़ी कान की रिंग ,दो अदद अंगूठी कीमती करीब 80000(अस्सी हजार),6-मु० अ० सं० 3/19 धारा 380/411 भादवि से संबधित एक जोड़ी हीरे का टप्स ,एक अदद अंगूठी नवरत्न जड़ी तथा दो अदद सादी अंगूूठी कीमती करीब 200000(दो लाख), 7-मु० अ० सं० 59/19 धारा 380/411 भादवि से संबधित 6000 रुपये नगद ,इस प्रकार कुल 28,50000(अट्ठाईस लाख पचास हजार रुपये )के जेवरात तथा 6000 रुपये नगद ,तथा 150 ग्राम नशीला पाउडर बरामद किया गया हैं। इंस्पेक्टर राममोहन ने बताया कि ये गैंग अंतरराज्यीय है जो ट्रेनो के अन्दर यात्रा करते समय यात्रियों के कीमती सामानों से भरे ब्रीफकेस इत्यादि को टारगेट करके बैग खोलकर,काटकर,चोरी करते हैं।उधर जीआरपी की सफलता पर एडीजी रेलवे संजय सिंघल व कप्तान हिमांशु कुमार ने टीम को शाबासी दी। उच्च अधिकारीगण द्वारा इंस्पेक्टर राममोहन राय की टीम को 10000 नगद इनाम तथा प्रशस्ति पत्र देने की घोषणा की गई है। उल्लेखनीय हैं की उक्त गैंग के पकड़े जाने से हरियाणा, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान समेत कई राज्यों में ट्रेनों मे हो रही घटनाओ पर अंकुश लगेगा ।