प्रधानमंत्री ने 500 दिनों में तैयार किए गए ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे का किया लोकार्पण

2018 BREAKING NEWS COUNTRY National POLITICS

प्रधानमंत्री ने 500 दिनों में तैयार किए गए ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे का किया लोकार्पण

भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने जनपद बागपत स्थित खेकड़ा स्टेडियम में 11 हजार करोड़ रुपए की लागत से मात्र 500 दिनों में तैयार किए गए ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे का लोकार्पण किया। उन्होंने कहा कि 4 वर्ष पूर्व जनता द्वारा अपार समर्थन देकर देश के विकास का अवसर प्रदान किया गया था। आज जनता की उपस्थिति बता रही है कि उनकी सरकार विकास की दिशा में सही रूप से आगे बढ़ रही है। कार्यक्रम में स्वयं को प्रधानमंत्री जी ने देशवासियों को प्रधानसेवक बताकर देश की 125 करोड़ जनता के लिए अभिवादन किया। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि 135 किमी0 लम्बे ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे को विश्वस्तरीय रूप से तैयार किया गया है, जिसमें आधुनिक तकनीक का भरपूर प्रयोग किया गया है और इस एक्सप्रेस-वे पर ढाई लाख वृृक्ष रोपित करते हुए ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे के रूप में विकसित किया गया है। इसके माध्यम से जहां एक ओर दिल्ली में बढ़ती हुई प्रदूषण की समस्या को बड़ी राहत प्राप्त होगी, वहीं दूसरी ओर दिल्ली में जाम की समस्या से मुक्ति मिल सकेगी। उन्होंने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे के संचालित होने से उत्तर प्रदेश के जनपद गौतमबुद्धनगर, गाजियाबाद, बागपत एवं अन्य समीप के जनपदों में विकास को गति प्रदान करने में मदद मिलेगी। इस एक्सप्रेस-वे के संचालन से हरियाणा राज्य को भी भरपूर लाभ होगा और उनके यहां भी विकास की गति में चार चांद लगेंगे। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि आज प्रथम चरण में दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे के 09 किमी मार्ग का शुभारम्भ किया गया है। एक्सप्रेस-वे के अगले वर्ष तक पूर्ण हो जाने के उपरान्त  मेरठ से दिल्ली आने का समय 40 मिनट हो जाएगा। वर्तमान समय में इस यात्रा को करने में 4 घण्टे का समय लगता है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ‘सबका साथ, सबका विकास’ के आधार पर बिना भेदभाव से विकास की ओर आगे बढ़ रही है।

उन्होंने इसका उदाहरण प्रस्तुत करते हुए कहा कि भारत सरकार द्वारा 03 लाख करोड़ रुपए की लागत से 18 हजार किमी0 हाईवे के निर्माण का कार्य किया गया है। विगत सरकार के दौरान प्रतिदिन 12 किमी हाईवे बनाने का औसत था, जिसे बढ़ाकर 27 किमी का निर्माण किया जा रहा है। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि रेलवे में भी केन्द्र सरकार द्वारा अभूतपूर्व कार्य करते हुए ट्रेनों की स्पीड बढ़ाने की दिशा में बड़ा कार्य किया गया है, 5.50 हजार मानव रहित फाटको  को तैयार किया गया है और रेलवे के विकास में हर स्तर पर सरकार के द्वारा प्रगति के साथ कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि रेलवे के साथ-साथ हवाई सेवा में भी बडे़ स्तर पर विकास करते हुए यात्रियों के लिए हवाई सेवा सस्ती करने की दिशा में बड़ी पहल की गयी है। वर्तमान में ए.सी ट्रेनों में यात्रा करने वाले यात्रियों की संख्या से अधिक लोग हवाई यात्रा कर रहे हैं। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि जल क्षेत्र में भी केन्द्र सरकार द्वारा अनेक कार्य किए जा रहे हैं। जल क्षेत्र में 100 से ज्यादा वाॅटर वेज तैयार किए जा रहे हैं और गंगा नदी में जहाज चलाने की शुरुआत हो गयी है।

उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा डिफेन्स काॅरिडोर तैयार किया जा रहा है। इससे ढाई लाख से अधिक लोगों को रोजगार के अवसर प्रदान किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि देश के हर गांव को इण्टरनेट से जोड़ने का कार्य तेजी से किया जा रहा है। वर्तमान सरकार द्वारा 01 लाख पंचायतों को आॅप्टीकल फाइबर से जोड़ दिया गया है। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि ‘मेक इन इण्डिया’ के माध्यम से सरकार द्वारा मैन्युफैक्चरिंग को बढ़ावा दिया जा रहा है। विगत सरकार में जहां केवल दो मोबाइल फैक्ट्री थीं, वहीं वर्तमान सरकार में 120 मोबाइल फोन फैक्ट्रियां स्थापित हो रही हैं। इससे एन.सी.आर. क्षेत्र के बेरोजगार लोगो को बडे़ स्तर पर रोजगार प्राप्त हो रहा है। रोजगार निर्माण के लिए सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग के विस्तार के लिए केन्द्र एवं प्रदेश सरकार मिलकर कार्य कर रही है। इसके तहत उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा ‘वन डिस्ट्रिक्ट, वन प्रोडक्ट’ योजना लागू की गयी है। इस क्षेत्र में टैक्स में बड़ी छूट प्रदान करने की व्यवस्था की गयी है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ग्रामोदय से भारतोदय की दिशा में कार्य कर रही है, जिसमें किसानों के हितार्थ प्रधानमंत्री बीमा योजना सहित कई योजनाआंे पर बडे़ स्तर पर कार्य किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री जी ने कहा कि किसी भी समाज, प्रदेश एवं देश के विकास में कानून एवं शान्ति व्यवस्था का महत्वपूर्ण योगदान होता है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृृत्व में उत्तर प्रदेश सरकार तथा हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल जी के नेतृृत्व में हरियाणा सरकार ने आपसी सामंजस्य स्थापित कर दोनों प्रदेशांे की कानून व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए बड़ी पहल की है। आपराधिक प्रवृृत्ति के व्यक्ति स्वयं को सरेण्डर कर रहे हंै। इसके लिए प्रधानमंत्री जी ने दोनों राज्यों मुख्यमंत्रियों को बधाई दी। प्रधानमंत्री जी ने कहा कि महिला उत्थान की दिशा में केन्द्र सरकार द्वारा बड़ी उपलब्धि अर्जित की गयी है। ‘स्वच्छ भारत अभियान’ के अन्तर्गत साढे़ सात करोड़ शौचालयों का निर्माण कराया गया। उज्ज्वला योजना के अन्तर्गत साढ़े चार करोड़ गैस कनेक्शन दिए गए हैं, जिससे महिलाओ को सम्मान प्राप्त हुआ है। उन्होंने यह भी कहा कि केन्द्र सरकार द्वारा मुद्रा योजना के अन्तर्गत 13 करोड़ रुपए का ऋण उपलब्ध कराया गया है, जिसमें 75 प्रतिशत महिला उद्यमियों को लाभ पहुंचाया गया है। उन्होंने कहा कि दलित और पिछडे़ लोगों के लिए सरकार विभिन्न प्रकार की योजनाएं संचालित कर रही है, जिनका सीधा लाभ उन्हें मिल रहा है। इस दिशा में सरकार द्वारा ओ0बी0सी0 कमीशन के गठन पर भी कार्य किया जा रहा है। केन्द्रीय सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, जल संसाधन, नदी विकास एवं गंगा संरक्षण मंत्री श्री नितिन गडकरी ने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण से दिल्ली का 27 प्रतिशत प्रदूषण और 41 प्रतिशत ट्रैफिक कम होगा। उन्होंने कहा कि इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण में किसानों की मांग के आधार पर किसानों को 6000 करोड़ रुपए का मुआवजा उपलब्ध कराया गया है। इस एक्सप्रेस-वे को वास्तुशिल्प के आधार पर तैयार किया गया है, जिसमें 36 स्थानों पर ऐतिहासिक धरोहरों के दर्शन होंगे।

इसके अलावा, ढाई लाख वृृक्ष लगाए गए हैं और आगे लाखों पेड लगाकर इसे ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि गंगा जी को निर्मल करने के लिए तेजी से अभियान चलाया जा रहा है और अगले मार्च तक 70 प्रतिशत गंगा जी निर्मल हो जाएंगी। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि आज का दिन प्रदेश के लिए स्वर्णिम दिन है कि देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द मोदी जी द्वारा ग्रीन फील्ड एक्सप्रेस-वे के रूप में ईस्टर्न पेरिफेरल एक्सप्रेस-वे राष्ट्र को समर्पित किया गया है। उन्होंने कहा कि यह एक्सप्रेस-वे, बागपत, गौतमबुद्वनगर, गाजियाबाद के विकास के नए आयामों को स्थापित करने में मील का पत्थर साबित होगा।प्रधानमंत्री जी द्वारा 04 वर्ष के सफलतम कार्यकाल में देश को लोक कल्याणकारी योजनाओं सहित आन्तरिक और बाहरी सुरक्षा के क्षेत्र में नई ऊँचाइयांे पर पहुंचाया गया है। इस एक्सप्रेस-वे को पूर्ण करने के लिए 910 दिन का लक्ष्य रखा गया था, जो समय से पूर्व ही 500 दिनों के रिकाॅर्ड समय में पूर्ण कर लिया गया है। इस एक्सप्रेस-वे के निर्माण ने एक नयी कार्य संस्कृृति को जन्म दिया है। इससे अन्य कार्यदायी संस्थाओ को भी प्रेरणा लेनी चाहिए। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने कहा कि प्रधानमंत्री जी का प्रयास है कि भारत दुनिया की आर्थिक शक्ति बने। जबकि प्रदेश सरकार की कोशिश है कि समाज के अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति को प्रदेश की विभिन्न जन कल्याणकारी योजना का लाभ मिले। उन्होंने कहा कि अभी हाल ही में 400 करोड रुपए की लागत से रमाला चीनी मिल की क्षमता वृृद्धि की गई है। अगले पेराई सत्र में चीनी मिल दोगुनी क्षमता के साथ गन्ना पेराई का कार्य करेगी। उन्होंने बताया कि गत 06 वर्ष के बकाया गन्ना मूल्य का भुगतान पूर्ण कराया गया है और इस वर्ष 21 हजार करोड़ रुपए गन्ना मूल्य का भुगतान कराया जा चुका है। उन्होंने कहा कि कोई भी किसान गन्ना मूल्य भुगतान से वंचित नहीं होगा।

पहली बार गेहूू का समर्थन मूल्य किसानों को दिया गया और वर्ष 2017-18 में 37 लाख मीट्रिक टन गेहूं क्रय किया गया है। उन्होंने कहा कि इस वर्ष 1745 रुपए प्रति कुन्तल गेहूं के समर्थन मूल्य का भुगतान कराया जा रहा है। जाति-मजहब आदि से उपर उठकर सरकार नौजवानों, महिलाओं, किसानों, आदिवासियों, दलितों, शोषितों की भलाई के कार्य करने के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि सरकार की मंशा है कि विकास कार्यों का सीधा लाभ प्रदेश की 22 करोड़ जनता को आसानी से मिले।

हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल ने इस एक्सप्रेस-वे के सम्बन्ध में बताया कि कुण्डली में इसका शिलान्यास किया गया था, जिसका लोकार्पण आज यहां प्रधानमंत्री जी द्वारा किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि इससे सदियों पुराने सम्बन्धों में प्रगाढ़ता आएगी तथा उद्योग और विकास कार्यो को गति मिलेगी। उन्होंने उत्तर प्रदेश और हरियाणा सरकार द्वारा आपसी समन्वय कर अपराधांे पर अंकुश लगाए जाने के सम्बन्ध में बोलते हुए कहा कि इससे दोनों प्रदेशों में अपराधों में कमी आयी है। भविष्य में भी आपसी समन्वय रखते हुए इस दिशा में कार्य किया जाएगा।

इस अवसर पर केन्द्रीय संस्कृृति राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डाॅ0 महेश शर्मा, विदेश राज्यमंत्री जनरल वी0के0 सिंह, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री श्री कृृष्णपाल, सड़क परिवहन एवं राजमार्ग राज्यमंत्री श्री मनसुख एल0 मंडाविया, जनप्रतिनिधिगण, शासन-प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारी एवं अन्य गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।
केन्द्रीय मानव संसाधन विकास राज्यमंत्री डाॅ0 सत्यपाल सिंह ने प्रधानमंत्री जी एवं उत्तर प्रदेश के राज्यपाल श्री राम नाईक जी सहित वहां उपस्थित सभी लोगों का स्वागत करते हुए कार्यक्रम में क्षेत्रीय जनता का बड़ी संख्या में उपस्थित होने पर आभार व्यक्त किया।

 

रिपोर्ट : शिवानी मौर्या

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *